Deepawali poems Wishes And Messages, Deepawali poems WhatsApp Picture Sticker

रौशनी का त्यौहार दीवाली इन्ही

रौशनी का त्यौहार दीवाली इन्ही पंक्तियों के साथ  बहुत बहुत मुबारक हो ...

जगमग आतिश बाजियां , रौशन है आकाश ! ....
और सितारे ढो रहे , अंधियारे की लाश !! .....

दिए जला दिल से मगर , दिल न जला तूं यार ! ...
ख़ुशी ख़ुशी दिल से मना , दीपों का त्यौहार !! ...

ज्यूँ ही हवा चराग़ के , आयी ज़रा समीप ! ....
फ़ैल गयी फिर रौशनी , जले दीप से दीप !!....

बिखरे पत्ते ताश के , भरे हुए हैं जाम ! ....
दीवाली की आड़ में , कैसे कैसे काम !! ...

घर आवे जो लक्ष्मी ,  सेठ  तुम्हारे  आज ! ...
उससे भी तुम पूछ लो , कितना दोगी ब्याज !! ...

दीवाली के रोज़ भी , आया नहीं सुहाग ! ...
अश्कों से ही रात भर ,जलते रहे चराग़ !! ....

विजेन्द्र शर्मा
सीमा सुरक्षा बल 
सीमान्त मुख्यालय ,सिलीगुड़ीRead Details

Wishing you and your family

Wishing you and your family a very Happy and a Prosperous Diwali.
Enjoy this festival of lights by bringing a smile on the faces of the Under Privileged and see the glow of happiness in your lives.Read Details

जरा सा मुस्कुरा देना दिवाली

जरा सा मुस्कुरा देना दिवाली से पहले-पहले,
हर ग़म को भुला देना दिवाली से पहले-पहले।
ना सोचो कि किस किस ने दिल दुखाया,
सबको माफ़ कर देना दिवाली से पहले-पहले।
क्या पता फिर मौका मिले ना मिले,
दिल को साफ़ कर लेना दिवाली से पहले-पहले।
हो सकता है आप हमें भुल जाएं,
इसलिए दिवाली की शुभकामनाएं दिवाली से पहले-पहले।Read Details

दीप जलते जगमगाते रहे, हम आपको

दीप जलते जगमगाते रहे,
हम आपको आप हमें याद आते रहे,
जब तक जिन्दगी है,
दुआ है हमारी,
आप चांद की तरह जगमगाते रहे,
शुभ दीपावली 
हमारी तरफ से आपको दीवाली की हार्दिक शुभकामनाएं 

---------

Happy DeepawaliRead Details

आओ मिल कर आशाओ का

आओ मिल कर आशाओ का दीप जलाये 
शहादत की आधारशिला पर खड़े आज हम 
उन महान आत्माओ के आदर्शो की ज्योत
हमारी पथ प्रदर्शक बनाये
---------

Happy DeepawaliRead Details

समय कसौटी है मानव के

समय कसौटी है मानव के कर्म की
धर्म की समय के मायने है जीवन
जीवन जो संयममय हो
जीवन जो सदाचारी हो
जीवन जो सुखमय हो
यही समय सनातन है
पुरातन व नूतन भी है
समय उपलब्धियो भरा है
फिर क्यो मानव लूटता है
तोडता है कचोटता है अपनो को
अपनो से ही वैर घृणा।
ईर्ष्या इन सब मे व्यर्थ
गंवाता है समय
आओ अहसास करे,हर्ष का विकास का
प्रगति का सभ्य समाज बनाने का
समय सत्य है काल है
अनादिकाल की पगडंडी पर
अनवरत दौडता समय
प्रतिपल परिवर्तित होता दौड रहा है
अपने लक्ष्य की ओर, सूरज चांद तारे
सभी समय की परिधि मे
बध्कर निरंतर आतुर है
करने नव सृजन
निशा से नव प्रभात की ओर
समय कसौटी है मानव
के कर्म की मानव के धर्म कीRead Details

दीपक एक जलाना साथी गुमसुम बैठ

दीपक एक जलाना साथी

गुमसुम बैठ न जाना साथी!
दीपक एक जलाना साथी!!

सघन कालिमा जाल बिछाए
द्वार-देहरी नज़र न आए
घर की राह दिखाना साथी!
दीपक एक जलाना साथी

घर औ' बाहर लीप-पोतकर
कोने-आंतर झाड़-झूड़कर
मन का मैल छुड़ाना साथी!
दीपक एक जलाना साथी!!

एक हमारा, एक तुम्हारा
दीप जले, चमके चौबारा
मिल-जुल पर्व मनाना साथी!
दीपक एक जलाना साथी!!

आ सकता है कोई झोंका
क्योंकि हवा को किसने रोका?
दोनों हाथ लगाना साथी!
दीपक एक जलाना साथी!

शुभ दीपावलीRead Details

Diwali, Gul ne gulshan se

Diwali, Gul ne gulshan se gulfam bheja hai,
sitaro ne gagan se salam bheja hai,
Mubarak ho apko ye "DIWALI"
Humne tahe dil se yeh paigam bheja hai.Read Details

"aaj se aap ke yaha...dhan...

"aaj se aap ke yaha...dhan... ki barsat ho,
maa laxmi ka... vas... ho, sankatto ka.... nash... ho
har dil par aapka... raj... ho, unnati ka sar par... taj... ho
ghar me shanti ka.... vas... ho
* HAPPY DIWALI *Read Details

हमारे समग्र प्रयासों से जब

हमारे समग्र प्रयासों से जब 

लोगो की राहें होंगी रौशन

हर चेहरे ऐसे चमके व दमकेंगे 

जैसे घर घर

टिम-टिमाते दीपक

फैल जायेगी चारों ओर 

खुशियों की ऐसी चादर

लगे जैसे झिलमिलाते

बल्बों की झालर

देखना फिर हर पल

लगने लगेगा त्यौहार

नहीं रहेगा वर्ष के

उस दिन का इंतजार

हर पल हम कह सकेंगे

....शुभ दीपावली 


दीप मल्लिका आपके परिवारजनों, मित्रों, स्नेहीजनों व शुभ चिंतकों के लिये सुख, समृद्धि, शान्ती व धन-वैभव दायक हो॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ इसी कामना के साथ॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰ दीपावली एवं नव वर्ष की हार्दिक बधाई एवं शूभकामनाऐं॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰॰Read Details