Holi Shayari poems Wishes And Messages, Holi Shayari poems WhatsApp Picture Sticker

मन में आशायें लेकर के, आया

मन में आशायें लेकर के,
आया हैं मधुमास,
चलो होली खेलेंगे।
सुन्दर है संगीत,
मिलन का गीत सुनाओ,
त्योहारों की रीत,
गले से अब लग जाओ,
नेक विचारों को लेकर के,
उत्सव है ये खास,
चलो होली खेलेंगे।
खुशियों की सौगात लिए,
होली आयी है,
चाँदी जैसी रात लिए,
होली आयी है,
सूर्य उजाले लेकर के
लाया है धवल प्रकाश,
चलो होली खेलेंगे।
उड़त गुलाल लाल भये बादर
अबिर उड़े भरजोरी रे
नैक उरै आ श्याम
तोपे रंग डारूं.
होली की शुभकामानायें.Read Details

होली का मतलब मिलन, रंग-अर्थ

होली का मतलब मिलन, रंग-अर्थ है प्यार.
मिले सभी आ कर तभी, सतरंगी संसार.
फागुन में सब जल गया, जितना भी था रार,
निर्मल मन को कर गया, ये अद्भुत त्यौहार..
फाग लिए अनुराग की, पिचकारी के साथ,
कर देता है प्यार की, अंतस में बरसात.
लपट झपट कर निकली घर से
मुख घूँघट पट में छुपाए
लाख जतन कर प्रियतम खोजे
प्रिया को ढूंढ़ ना पाए
अल्हड़ नाद उठे मस्तो की टोली का
गोरी खेल रही है खेल, आँख मिचोली का


होली की शुभकामनाएँ!Read Details

अबकी बहन बेटियो की आबरू

अबकी बहन बेटियो की आबरू बचा पाओ 
.......तो होली बनाओ 
अबकी तिरंगे पर कालिख लगने से बचा पाओ
.......तो होली बनाओ 
अबकी रिश्तो की मर्यादा बचा पाओ
.......तो होली बनाओ 
अबकी भष्टाचार मिटा पाओ
......तो होली बनाओ 
किसी रोते को हसा पाओ
......तो होली बनाओ ...
.............देखो एक कलाकार कल्पना सागर मे गोते लगाता है ...
तभी तो निरा मुर्ख ओर पागल कहलाता है ...
फिर भी गुरुर देखो उसका मदं मदं मुस्कुराता है...Read Details

Holi aaye holi aayeRang birangi

Holi aaye holi aaye
Rang birangi holi aaye
Tarah tarah k rangoo se rangne
dekho phir se holi aaye ..

Lal, gulal, hara, nila
Har dukaan pe hai rangoo ka mela
Main to laal rang leke
tumare gaalon ko rang lagane chala.....

Holi to bas ek bahana hai rangoo ka
Ye tyohaar to hai aapas main
Dosti or Pyar badhane ka,
chalo sare gile sikwe dooe kar ke
ek dusre ko khub rang lagate hain.
milkar holi manate hain......

Holi ka rang to dhul jayega
dosti or pyar ka rang na dhul payega
Yehi to aasli rang hai zindegi ke
Jitna ranglo utna gehera hota jayega.......

i wish u a verry happy holi

..........Bimal..........Read Details

सब को ही होली की

सब को ही होली की राम राम 
कितने भाग्यवान हैं हम सब ,खेल रहे मिल जुल कर होली
और कही पर धधक रही जनता के अरमानो की होली 
कही घुल रहा रङ्ग रुधिर का सागर के जल मे अति गहरा
और कही टेसू गुलाब के रंग रन्गी जनता की टोली

प्रियजन खेलो रंग , मचाओ धूम ,नगर मे घूम घूम कर
मन मे करते रहो विनय ,"""प्रभु खोलो अब तो करुणा झोली
कष्ट हरो करुणाकर स्वामी ,जग के सारे ,दुखी जनो के"
मानवता ,मिल जुल कर ,जिससे ,खेल सके हम सब से होलीRead Details

holi ka tyohar aya sath

holi ka tyohar aya sath me dher sari khushiyan laya man mera jhooma jae re dil me umang jagae re.happy holiRead Details

रंग की फुहार है ,

रंग की फुहार है , गीत की बहार है 
बॉंटता जो प्यार है , होली का त्यौहार है 
धूम ही मचायेंगे , होली यूं मनायेंगे 
यारों की टोली में , गॉंव की होलीमें 
हाथों में रंग लिये , पिचकारी संग लिये 
झूमझूम गायेंगे . होली यूं मनायेंगे 
गॉंव की जो गोरियॉं , भाभी और छोरियां 
देख रंग हाथों में , घुस गई अहातों में 
दरवज्जा तुडवायेंगे , होली यूं मनायेंगे 
रंग लगा गालों में , भर अबीर बालों में 
बीती बात भूल गये, हम गले से झूल रहे 
भेद सब मिटायेंगे ,होली यूं मनायेंगे 
पंहुचे नदी के घाट पर , भंगिया को बॉंट कर 
छान कर डटाई है , मस्ती खूब छाई है 
गीत गुनगुनायेंगे ,होली यूं मनायेंगे 
कधे पर शर्ट टॉंग , धर के विचित्र स्वांग 
होंठों पर गीत फाग . ढपली पर बजे राग 
तुमको नचवायेंगे , होली यूं मनायेंगे 
बाटी और दाल है , चूरमा कमाल है 
पत्तों की थाली है , गंध भी मतवाली है 
डट के खूब खायेंगे , होली यूं मनायेंगे 
रंग की फुहार है , गीत की बहार है 
बॉंटता जो प्यार है , होली का त्यौहार है 
धूम ही मचायेंगे , होली यूं मनायेंगेRead Details