Roop Chaturdashi sms Wishes And Messages, Roop Chaturdashi sms WhatsApp Picture Sticker

Why Roop Chaturdashi / Why

Why Roop Chaturdashi / Why Chhoti Diwali ?


आज रूप चतुर्दशी / छोटी दीपावली क्यों ?
*नारी सम्मान का प्रतीक है आज का दिन*
मित्रों, दीपावली को एक दिन का पर्व कहना न्योचित नहीं होगा। इस पर्व का जो महत्व और महात्मय है उस दृष्टि से भी यह काफी महत्वपूर्ण त्यौहार है।
यह पांच पर्वों की श्रृंखला के मध्य में रहने वाला त्यौहार है जैसे मंत्री समुदाय के बीच राजा। दीपावली से दो दिन पहले धनतेरस फिर रूप चतुर्दशी या छोटी दीपावली फिर दीपावली और गोधन पूजा, भाईदूज।
रूप चतुर्दशी की जिसे छोटी दीपावली भी कहते हैं। इसे छोटी दीपावली इसलिए कहा जाता है क्योंकि दीपावली से एक दिन पहले रात के वक्त उसी प्रकार दीए की रोशनी से रात के तिमिर को प्रकाश पुंज से दूर भगा दिया जाता है जैसे दीपावली की रात। इस रात दीए जलाने की प्रथा के संदर्भ में कई पौराणिक कथाएं और लोकमान्यताएं हैं।
एक कथा के अनुसार आज के दिन ही सौन्दर्य रूप भगवान श्री कृष्ण ने अत्याचारी और दुराचारी दुर्दान्त असुर नरकासुर का वध किया था और सोलह हजार एक सौ कन्याओं को नरकासुर के बंदी गृह से मुक्त कर उन्हें सम्मान प्रदान किया था। इस उपलक्ष में दीयों की बारात सजायी जाती है व सौन्दर्य रूप श्री कृष्ण की उपासना की जाती है।
आप सबको मेरी और से शुभ कामनाएं !Read Details

कार्तिक कृष्ण पक्ष, रूप चतुर्दशी,

कार्तिक कृष्ण पक्ष, रूप चतुर्दशी, 
~~~~~~~~~~~~~~~~~~
रूप स्वरुप बना ही रहे, 
यही कामना का दिन,
है रुप की चोदस और
मिले जग में तुमको,
दिल से किए हर, 
काम का वो जस 
आई दिवाली दीप जले,
उजियार के आगे, 
तमस भी बेबस
माँ लक्ष्मी दया कीजे 
किरपा बरसाय दो

अबकी बरस 
असफलता, दुख, निराशा, दरिद्रता और मुश्किलें आपसे कोसों दूर रहे ! 


रूप चतुर्दशी की हार्दिक शुभकामनाएं । 

" Subh Chhoti Diwali"Read Details