Spiritual poems Wishes And Messages, Spiritual poems WhatsApp Picture Sticker

हाथ पे किसका नाम लिखूं.

जय श्री कृष्णा 

"घूंघट में अपने मुह को छिपाते हुए...
कृष्ण किशोरी जी के सामने पहुंचे और उनका हाथ पकड़ कर बोले...

"कि कहो सुकुमारी तुम्हारे हाथ पे किसका नाम लिखूं...।"
तो किशोरी जी ने उत्तर दिया...

"कि केवल हाथ पर नहीं मुझे तो पूरे श्री अंग पर ही  गुदवाना है
और क्या लिखवाना है...
किशोरी जी बता रही हैं...
माथे पे मदन मोहन...
पलकों पे पीताम्बर धारी...
नासिका पे नटवर...
कपोलों पे कृष्ण मुरारी...
अधरों पे अच्युत...
गर्दन पे गोवर्धन धारी...
कानो में केशव और भृकुटी पे भुजा चार धारी...
छाती पे छलीया और कमर पे कन्हैया... जंघाओं पे जनार्दन...
उदर पे ऊखल बंधैया...
गुदाओं पर ग्वाल...
नाभि पे नाग नथैया...
बाहों पे लिख बनवारी...
हथेली पे हलधर के भैया...
नखों पे लिख नारायण...
पैरों पे जग पालनहारी...
चरणों में चोर माखन का...
मन में मोर मुकुट धारी...
नैनो में तू गोद दे नंदनंदन की सूरत प्यारी
और रोम रोम पे मेरे लिखदे रसिया रणछोर वो रास बिहारी...
दंत नाम दामोदर लिख दे...
बाहों बीच लिखो बनवारी...
रोम-रोम में लिख दे रसिया ए लिलहार की गोदनहारी..."
.!!..जय श्री राधे राधे जी ..!!Read Details

May your life be filled

May your life be filled with
eternal light of knowledge

May the divine grace of
Godess be with you

Goddess Saraswati is the
Light of hope and Peace

Pray Goddess Saraswati
Blessings remain with us
throughout Life

May Goddess Saraswati Bless you
with Knowledge and Wisdom 
JAY MAA 
SARASWATIRead Details

Arti Jambheshwarji Ki आरती कीजै गुरु

Arti Jambheshwarji Ki

आरती कीजै गुरु जम्भ जती की |
भगत उधारण प्राणपति की |
पहली आरती लॊहट घर आये |
बिन बादल प्रभु इमिया झुराए|
दूसरी आरती पीपासर आए |
दूदा जी ने प्रभु परचो दिखाए |
तीसरी आरती समराथल आए|
पूला जी ने प्रभु स्वर्ग दिखाए |
चोथी आरती अनूबे निवाए |
भोच लॊग प्रभु पवित्र कहाए |
पाचवी आरती उधो जन गावे |
सॊ गावे अमरापुर पावे |Read Details

Shree Rudraashtak Strotram: Namaamee Shameeshaan Nirvaanroopam, Vibhun

Shree Rudraashtak Strotram:

Namaamee Shameeshaan Nirvaanroopam,
Vibhun vyaapkam brahm veydaswaroopam.
Nijam-nirgunam Nirvikalpam Nireeham,
Chidaakaashamaakaasanvaasham bhajeham

Niraakaaram ounkaarmoonlam Tureeyam,
Giraa jyaan goteetameesham Gireesham.
Karaal mahaakaal kaalam kripaalam,
Gunaagaar sansaar paaram nato-a-ham

Tushaaraadri Sankaash Gauram Gambheeram,
Manobhoot koti prabhaa shree shareeram.
Sphuranmauli kallolinee chaaru gangaa,
Lasad bhaal baaleyndu kanthey Bhujangaa.

Chalatkundlam suubhra neytram vishaalam,
Prasannaanam Neelakantham dayaalam.
Mrigaadheesh charmaambaram mundamaalam.
Priyam shankaram sarvanaatham bhajaami

Prachandam prakastham pragalbham pareysham.
Akhandam ajam bhaanu koti prakaasham,
Trishoolam Nirmoolam Shoolapaanim.
Bhajeya-ham bhavaaneepati bhaava-gamyam.

Kalaateet Kalyaan Kalpaantkaaree.
Sadaa Satchid-aa nand Dataa puraaree,
Chindanand Sandoh Mohaapahaari,
Praseed: Praseed: Prabho man-mathaaree

Na-yaavad umaanaath paadaar vindam.
Bhajanteeha parey vaa na raanaam,
NataaRead Details

Shri Gopal Sahstranam Strotra -: श्री

Shri Gopal Sahstranam Strotra


-: श्री गोपाल शहस्त्रनाम स्त्रोत :-
कैलाश शिखरे रम्ये गौरी प्रछाती शंकरं 
ब्राम्हांदा खिल्नाथास्त्वाम श्रीस्ती संहार कारकं 
अस्चर्या मिद्मात्यानतम जायते मम शंकरं 
तट प्राणेश महा प्राघ्य शंश्य्म छिन्धि शंकरं 
श्री महादेव उवाच 
धन्यासी क्रित्पुन्यासी पारवती प्राण वल्लभे 
रहस्याती रहस्यम च यात्प्र्छासी वरानने 
स्त्रिस्वभावन महादेवी पुनस्त्वं पारी प्रिछासी 
गोप्नियम गोप्नियम गोप्नियम प्रयत्नः तह 
दते च सिध्हिआनी सया तस्मा द्याग्नें गप्येतः 
इदं रहस्यम परमं पुर्सार्थ प्रदायकं धन रत्नों धमानिक्यम तुरंगम गजादिकम 
ददाति स्मर्ना देव महा मोक्ष प्रदायकं ततेहम सप्रवाक्श्यामी स्रानुस्वाव्हिता प्रिये यो सो निरंजनो निराकारो भक्तानाम प्रितिकायादःRead Details

खुशियों के श्रोत का उदगम

खुशियों के श्रोत का उदगम बता दो,
जीवन में आनंद का संगम करा दो.
देह के आत्मा को तृप्त कर दे जो,
उस मूल्यवान वस्तु से मिलन करा दो.

तलाश में जिसके संतो के भक्ति लीन,
दार्शनिको के विचार जिस आस्था में विलीन.
कृष्ण राधा के प्रेम संबंधो का यकीन,
उनके बीच का वो अमर बंधन हसीन.

अरस्तु के चमत्कारिक ज्ञान का भंडार,
आइन्स्टीन के काया पलट खोजो का अम्बार.
मायकल एंजलो की प्रतिभाशाली कला,
महात्मा बुद्ध को जिस शक्ति से ज्ञान मिला.

क्रिस्त्लर की मधुर वो वायलिन की तान,
कबीर के गूढ़ रहस्यवादी दोहो की शान.
सेक्सपीअर की जग प्रसिद्ध कविताये,
वो प्रेरणा जिससे लिखी महान रचनाये.

खुशियों के श्रोत का उदगम बता दो,
जीवन में आनंद का संगम करा दो.
देह के आत्मा को तृप्त कर दे जो,
उस मूल्यवान वस्तु से मिलन करा दोRead Details

मैं तुम्हे हर पल याद

मैं तुम्हे हर पल याद करती हूँ
हर सांस के साथ क्या?
इक इक सांस मैं
कई कई बार याद करती हूँ
चलते वक़्त पायल के
घुन्गरुओं की झंकार
मैं आहट तुम्हारी सुनाई देती हैं
फूलों की पत्तियों मैं
सूरत तुम्हारी लगती हैं
बारिश की बूंदों मैं
अक्स जैसे तुम्हारा छलकता हैं
बादलों मैं छिपा जैसे
मेरा घनशयाम लगता हैं
अग्नि की लपटों मैं
जैसे मेरा मोहन सजता हैं
मंद मंद वायु मैं
जैसे तेरी मुस्कराहट सी आती हैं
वो वंशी की मधुर मधुर धुन
कानो मैं आती हैं
पृथ्वी के हर जर्रे मैं
छिपे जैसे बनवारी हैं
मेरी हर धड़कन
कई कई बार
नाम कान्हा तेरा पुकारती हैं
अब तो आ जाओ आ जाओ नाRead Details

ho ke mayus shirdi se

ho ke mayus shirdi se koi sawali nagaya
sai ke dar se koi banda khali na gaya
apne bhakton ki khabar lete hain mere satguru sai ram
kyonki sai hain is duniya ki sabse badi sarkar

aana hai to aa ja aab shirdi dhaam me
sai sansaar ki badi sarkaar hain!!!

milte yahan har bande ko nyaya
kyonki sai ka sacha darbar hai!!!!

sai ke ghar me der bhale ho jaye
sai ke ghar me andher nahi hote hain
apne bhakton ke gam ko wo har lete hain
bhakton ki halaton par sai ki naza hai


happy sai baba day to all of u may baba call u to shirdi soon and me too as i have never been there!!!Read Details